बीकानेरराजस्थान

बीकानेर मुख्यालय पर बनेगा एक बालिका छात्रावास का निर्माण पढ़े पुरी खबर…

आर्यव्रत न्यूज़,बीकानेर। जिला प्रभारी मंत्री तथा अल्पसंख्यक मामलात, वक्फ, जन अभियोग निराकरण मंत्री सालेह मोहम्मद ने कहा कि बीकानेर के 61 मदरसों में 5 तरह के खेलों की सामग्री उपलब्ध करवाई गई है। मदरसों से जुड़े अध्यापकों, पैराटीचर सहित छात्रावास के प्रभारी अधिकारियों को चाहिए कि वे इस खेल सामग्री का उपयोग बेहतर तरीके से करवाते हुए मदरसों के छात्रों को खेल में भी पारंगत करें और यह बच्चे अपने शहर के साथ-साथ अपने मदरसे का नाम भी राज्य और राष्ट्रीय स्तर पर रोशन कर सकेंगे। राज्य सरकार अल्पसंख्यक वर्ग के लोगों के लिए शिक्षा, खेल सहित अन्य सुविधाओं को उपलब्ध करवाने में कोई कोर कसर नहीं छोड़ रही है।

जिला प्रभारी मंत्री शुक्रवार को रानी बाजार औद्योगिक क्षेत्र में स्थित राजकीय अल्पसंख्यक बालक छात्रावास में खेल सामग्री वितरण समारोह में मुख्य अतिथि के रूप में बोल रहे थे। उन्होंने कहा कि मदरसों को खेल के साथ-साथ आधुनिक सुविधाओं से भी जोड़ा जाएगा। इसके तहत मदरसों में कंप्यूटर लैब की भी स्थापना की जा रही है। यहां कंप्यूटर के लिए पृथक से टीचर्स की व्यवस्था भी की गई है। उन्होंने कहा कि गुणवत्ता परक शिक्षा देना राज्य सरकार का प्रथम दायित्व है और सरकार अपने दायित्वों के निर्वहन में कोई कोर कसर नहीं छोड़ेगी। प्रभारी मंत्री ने कहा कि बीकानेर के मदरसे और छात्रावास एक मॉडल के रूप में विकसित हों, इसके लिए भी सार्थक प्रयास किए जाएंगे।

सालेह मोहम्मद ने कहा कि सभी छात्रावासों में सुरक्षा के पूरे बंदोबस्त होने चाहिए, साथ ही छात्रावास में पढऩे वाले छात्रों के लिए जो कुछ ताना-बाना उनके परिजनों ने सोचा है या जो सपने उन्होंने संजोए हैं, उन्हें पूरा करने की नैतिक जिम्मेदारी छात्रावास के प्रभारी अधिकारियों की भी है, उन्हें चाहिए कि वे यहां रहने वाले छात्रों के सर्वांगीण विकास के लिए इनके साथ मानसिक और बौद्धिक रूप से जोड़कर संबल प्रदान करें, ताकि इन बच्चों को छात्रावास में भी घर जैसा माहौल मिले और शिक्षा के क्षेत्र में आगे बढ़ सकें।

प्रभारी मंत्री ने कहा कि प्रदेश भर में मदरसों के लिए भवन निर्माण जरूरत के मुताबिक होते रहें, इसके लिए राज्य सरकार द्वारा वर्तमान में 10 करोड़ रूपए की राशि का प्रावधान किया गया है। इस राशि के तहत 90 प्रतिशत राशि सरकार द्वारा दी जाती है। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार इस राशि में अगले वित्तीय वर्ष में और बढ़ोतरी करेगी। उन्होंने कहा कि जिला मुख्यालय सहित गांव ढाणी में जो मदरसे हैं उनमें भी सभी सुविधाएं विकसित की जा रही है, साथ ही यहां गुणवत्तापूर्ण शिक्षा मिले इसके लिए भी सभी सुविधाएं मदरसों में उपलब्ध करवाई गई है।

जिला प्रभारी मंत्री ने कहा कि बीकानेर मुख्यालय पर जल्द ही एक बालिका छात्रावास का निर्माण करवाया जाएगा, इसके लिए भूमि का आवंटन नगर विकास न्यास द्वारा कर दिया गया है। उन्होंने कहा कि नगर निगम द्वारा जल्द ही 1 सप्ताह का कार्यक्रम चलाकर जिला मुख्यालय पर जितने भी मदरसे हैं, इनके आसपास बेहतर सफाई करवाई जाएगी। स्वच्छता पर विशेष ध्यान देते हुए जिन मदरसों के आसपास सीवरेज कार्य की जरूरत है, वह भी करवाए जायेंगे। उन्होंने बताया कि जल्द ही छतरगढ़ में एक आईटीआई की शुरुआत भी शीघ्र करवाई जाएगी, इसके लिए भी राज्य सरकार से स्वीकृृति मिल गई है, जल्द ही यहां आईटीआई क्रियाशील हो जाएगी।

इस अवसर पर नगर विकास न्यास के पूर्व अध्यक्ष हाजी मकसूद अहमद तथा मदन मेघवाल ने भी विचार रखे। प्रभारी मंत्री द्वारा उपस्थित छात्रों और पैरा टीचर्स को खेल सामग्री का वितरण किया गया। इस अवसर पर आयुक्त नगर निगम डॉ प्रदीप के गवांडे, लोक सेवाएं उपनिदेशक शबीना विश्नोई, सहायक कलेक्टर बिंदु चैधरी, जिला अल्पसंख्यक कल्याण अधिकारी शहजाद अहम्मद तथा कार्यक्रम अधिकारी नबाव खां भी उपस्थित थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

WhatsApp chat
Close